चेहरे का सौन्दर्य

महिलयों को चहरे का सौन्दर्य बनाए रखने के जरूरत उस वक़्त पड़ती है जब चहेरे पर झुर्री, छाया, दाग या मुहासे होकर चहेरे को खराब कर देते है। वैसे तो मार्केट मे बहुत से सौन्दर्य प्रसाधन है पर सब केमिकल युक्त है साथ ही बहुत महेंगे भी है। आयुर्वेद मई इसके लिए बहुत से घरेलू उपाय है और सभी कुदरती, बिना केमिकल के। आज हम इन्हीं उपायो के बारे मे जानेंगे और केमिकल युक्त प्रसाधनों से नाता तोड़ कर आयुर्वेद को अपनाएगे।

चहेरे पर छाया तथा फुंसियों के लिए

1: रीठा का छिलका पानी मई पीसकर लगाने से चहेरे की छाया और दाग धब्बे दूर होते है।
2: एक चम्मच शहद और एक चम्मच दूध मिलाकर चहेरे पर लगाए। और 5 मिनट बाद सादा पानी से धो ले।
3: चहेरे पर नींबू का छिलका अंदर की तरफ से मले। 5 मिनट बाद थोड़ बेसन भी चहेरे पर मले। 15 मिनट बाद ताजे पानी से धो ले। इससे चेहरा साफ होता है, ज़्हईया कम होती है और मुहासे मई भी आराम आता है।
ध्यान दे की कच्चे मुहासे को कभी भी न छेड़े या नोचे वरना वे चहेरे पर दाग या निशान छोड़ देंगे।

मुहासे

मुहासे दो प्रकार के होते है। पहले वो जो पाक जाते है और जिनमे कील हो जाती है जो दबाने से निकल जाती है। दूसरे वो मुहासे जो पकते नहीं है। इनमे बिना पके कील बन जाती है और निकल जाती है। इंका संबंध पहले प्रकार की फुंसियों से नहीं है। इस प्रकार की फूंसिया गलत स्तनपान, गरम प्रदार्थों का सेवन और गलत आहार करने से वात पित्त कफ के कुपित होने और रक्त मे विकार पैदा होते है। चहेरे की त्वचा के नीचे रक्तकोशों मे वसा और तेलिए ग्रंथियो बढ़ जाती है। जो मुहासे का रूप ले लेती है। इसी वजह से चहेरा बिगड़ जाता है। इसे Acne Rosacea कहते है। यह ज़्यादातर महिलाओ मे होते है। कुछ आयुर्वेदिक उपायो से हम इन्हे कम या काबू पा सकते है।

1: छुहारे की गुठली का पाउडर सिरके के साथ मिलाकर मुहासे पर लगाए। फिर 1 घंटे बाद धो ले। मुहासों मे आराम मिलेगा। ऐसा हफ्ते मे 3 बार करे।
2: जायफल और कालीमिर्च पाउडर को दूध के साथ मिलाकर मुहासों पर लगाए। ऐसा करने से मुहासे कम होते है।
3: मसूर की दाल को बारीक पीसकर कच्चे दूध मे मिलाकर गाढ़ा लेप बना ले और इसे चहेरे पर लगाए। 15 मिनट बाद सूखने पर धो ले।
4: सुबह एक बादाम पानी मई भिगोकर रखे। शाम को छिलका हटकर पीस कर लेप बना ले। इसमे 10-15 ड्रॉप नींबू का रस डाले और बराबर मात्रा मे glycerin मिला ले। इसे चहेरे पर लगाए और एक घंटे बाद सदा पानी से धो ले। चहेरे के मुहासे कम होंगे और चहेरा चमकदार होगा।

घर पर उपलब्ध साधनो से ही हम कील मुहासों से निजात पा सकते है और इनके कोई side effect भी नहीं है। यही आयुर्वेद का चमत्कार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *